Rescue from incurable disease

Rescue from incurable disease
लाइलाज बीमारी से मुक्ति उपाय है - आयुर्वेद और पंचकर्म चिकित्सा |
  • Home
  • Contact Us
  • About Me
  • Q & A
  • Article's स्वास्थ्य लेख
  • Panchakarma(पंचकर्म)
  • Common Article
  • Specific article (विशेष लेख)
  • VIDEO
  • Shiro-Abhyang [शिरोभ्यंग] Head Massage.

    शिरोभ्यंग (Shiro-Abhyang Head Massage)
    शिरोभ्यंग (Shiro-Abhyang Head Massage)
    "सिर जो तेरा चकराए या दिल डूबा जाये आजा प्यारे पास हमारे काहे घबराये- --  -- इस चम्पी में बड़े- बढे गुण – लाख मर्ज की एक दवा है काहे घबराए" गाना गाते और सिर पर मालिश की आवाज लगते हुए कलाकार जोनी वाकर को सभी ने सुना/ देखा होगा|  कहना न होगा की हम सब सिर की मालिश के विषय में अच्छी तरह परिचित है| आदि काल से ही प्रत्येक भारत वासी इसके लाभों से परिचित है
    यही शिरोभ्यंग या शिरो-अभ्यंग है| आयुर्वेद चिकित्सा में बाह्य स्नेहन के अंतर्गत मूर्ध तैल श्रेणी में शिरोभ्यंग, किया जाता है|  
    सिर पर मालिश या अभ्यंग से सभी पांच ज्ञानेन्द्रियों कान (श्रोत), नाक (गंध घ्राण), नेत्र (दृष्टि), जिव्हा (वाक) त्वचा (स्पर्श) को पोषण (nourishment) मिलता है, जो उनकी सामान्य और प्राकृतिक क्रियाओं में सहायक होता है
    सामान्यत हम सभी ने कभी न कभी सिर की मालिश जरुर करवाई होगी, इसलिए इसके लाभों की जानकारी भी है| परन्तु शिर की यही तैल मालिश विशेष ओषधिय तेल से एक पंचकर्म प्रक्रिया के अनुसार एक आयुर्वेदिक चिकित्सक की देखरेख में कुशल व्यक्ति (पेरामेडिकल स्टाफ) द्वारा की जाये तो कई रोगों में चमत्कारिक लाभ भी मिलता है|
    माइग्रेन, तनाव, अनिद्रा, आदि आदि कई आधुनिक व्यवस्था से उत्पन्न रोग जिनका अन्य किसी चिकित्सा पद्धति में इलाज नहीं इस ओषधिय शिरोभ्यंग, या समकक्ष शिरोधारा सहित एक या विविध पंचकर्म की समान्य चिकित्सा द्वारा अन्य पद्धति की चिकित्सा में होने वाले व्यय के चोथाई से भी कम व्यय पर हमेशा के लिए ठीक किया जा सकता है|
    सामान्य शिरोभ्यंग या सिर की मालिश से ही निम्न लाभ मिलते हें|
    ü    इससे शिरदर्द से मुक्ति मिलती है| It prevents and cures headache.
    ü    शिर का पोषण होने से बालों का गिरना, सफ़ेद होना, आदि रूकती है| It prevents and cures hair fall and premature graying of hair.
    ü    बालों की जड़ मजबूत होने से वे स्वस्थ्य,लम्बे, घने और चमकदार होते हें| It makes the hair root very strong long, soft and glossy.
    ü    दृष्टि दोष ठीक होता है,It prevents and cures refraction errors of eyes.
    ü    चेहरे के रंग में निखर आता है| It promotes complexion of the face.
    ü    अच्छी नींद आती है| It helps for sound sleep.

    • शिरो अभ्यंग सहित अन्य सभी अभ्यंगों के बारे में जाने अधिक - 
    कैसे करते हें? कोन इसके योग्य कोन अयोग्य? , अब्यंग के लिए उपयुक्त तैल आदि?, शरीर की किन किन स्थितियों में अभ्यंग करें? कितने समय तक करें? अभ्यंग के बाद क्या करें? इसके क्या लाभ हैं?  लिंक-  Abhyng (अभ्यंग) - The Massage of Ayurveda. 
    शिरोभ्यंग हेतु विभिन्न औषधीय तेल और उनके उपयोग| 
    Types of medicated oil and their uses in  oleation
    शिरोभ्यंग [ Head Massage] में उपयोगी.

    सिर मालिश या स्नेहन हेतु विभिन्न औषधीय तेल और उनके उपयोग
    Types of medicated oil and their uses in  oleation

    शिरोभ्यंग [ Head Massage] में उपयोगी. वर्तमान में बाज़ार में सेकड़ों नामो से तैल मिलते हें, जिनका मूल्य भी लगत से कई कई गुना होता है| परन्तु जान लें की अधिकांश तैल आयुर्वेदिक शास्त्रों में वर्णित हैं और सभी में परिवर्तन कर बना दिए जाते हें|   एक कुशल आयुर्वेदिक चिकित्सक आपके रोग/ कष्ट के अनुसार चुनाव कर अधिक लाभ दे सकता है|
    कुछ सामान्यता चिकित्सको द्वारा प्रयुक्त किये जाने वाले तैल निम्न अनुसार है|
    1. मेध्य रसायन तैल [Medhya rasayan tail.]
    2. ब्राह्मी तैल [Bramhi tail.]
    3. चन्दन वाला लाक्षादी तैल [Chandan bala lakshadi tail.]
    4. ज्योतिष्मती तैल [Jyotismati tail.]
    5. निलगिरी तैल [Nilgiri tail].

    नोट- शीघ्र ही इस सूचि वृद्धि की जा सकेगी, और इनके गुणों, निर्माण विधि भी लिखने का प्रयास किया जायेगा| देखते रहें | 


    समस्त चिकित्सकीय सलाह रोग निदान एवं चिकित्सा की जानकारी ज्ञान(शिक्षण) उद्देश्य से हे| प्राधिकृत चिकित्सक से संपर्क के बाद ही प्रयोग में लें| आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल/ जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें। इसका प्रकाशन जन हित में किया जा रहा है।
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    स्वास्थ /रोग विषयक प्रश्न यहाँ दर्ज कर सकते हें|

    स्वास्थ है हमारा अधिकार

    हमारा लक्ष्य सामान्य जन से लेकर प्रत्येक विशिष्ट जन को समग्र स्वस्थ्य का लाभ पहुँचाना है| पंचकर्म सहित आयुर्वेद चिकित्सा, स्वास्थय हेतु लाभकारी लेख, इच्छित को स्वास्थ्य प्रशिक्षण, और स्वास्थ्य विषयक जन जागरण करना है| आयुर्वेदिक चिकित्सा – यह आयुर्वेद विज्ञानं के रूप में विश्व की पुरातन चिकित्सा पद्ध्ति है, जो ‘समग्र शरीर’ (अर्थात शरीर, मन और आत्मा) को स्वस्थ्य करती है|

    चिकित्सक सहयोगी बने:
    - हमारे यहाँ देश भर से रोगी चिकित्सा परामर्श हेतु आते हैं,या परामर्श करते हें, सभी का उज्जैन आना अक्सर धन, समय आदि कारणों से संभव नहीं हो पाता, एसी स्थिति में आप हमारे सहयोगी बन सकते हें| यदि आप पंजीकृत आयुर्वेद स्नातक (न्यूनतम) हें! आप पंचकर्म केंद्र अथवा पंचकर्म और आयुर्वेदिक चिकित्सा प्रक्रियाओं जैसे अर्श- क्षार सूत्र, रक्त मोक्षण, अग्निकर्म, वमन, विरेचन, बस्ती, या शिरोधारा जैसे विशिष्ट स्नेहनादी माध्यम से चिकित्सा कार्य करते हें, तो आप संपर्क कर सकते हें| 9425379102/ mail- healthforalldrvyas@gmail.com केवल परामर्श चिकित्सा कार्य करने वाले चिकित्सक सम्पर्क न करें|