Rescue from incurable disease

Rescue from incurable disease
लाइलाज बीमारी से मुक्ति उपाय है - आयुर्वेद और पंचकर्म चिकित्सा |
  • Home
  • Contact Us
  • About Me
  • Q & A
  • Article's स्वास्थ्य लेख
  • Panchakarma(पंचकर्म)
  • Common Article
  • Specific article (विशेष लेख)
  • VIDEO
  • पुरानी कष्ट कारक सुखी खांसी -प्रश्न पर उत्तर ।

    Sent to Link Number: 54aae  / Sender Name: parvin gehlan
    Sender Email Address: victory_rose@rediffmail.com 
    sir  -meri umar 30 year h.mujhe bachpan se hi bahut hi kastkark
     dry cough hoti h.jaise ek dog ko khansi hoti h..intni kastkark
     ki khnste khanste gla me bhi ghav ho jata h lekin cough nhi
     nikalta.gahri sans nhi le pata hu...gle chhati me bahut dard
     hota h.khanste 2 behaal ho jata hu..lagta h jaise mar hi jaunga.
    ..pls madad kre..apki ati kripa hogi.thank you...
    उत्तर - आपकी बात से पता चलता है, की आप स्मोकिंग करते रहें हो सकते हें। आपको सूखी खांसी चलती रहती है।
      आप 1-Sputum for AFB,
              2- T & D, जांच करवाए और रिपोर्ट भेजें।
        इस बीच निम्न ओषधियाँ प्रयोग करें।
         च्ंद्रामृत रस             5 ग्राम+
         टंकण क्षार               2॰5 ग्राम+
        अकीक पिष्टि            3 ग्राम+
         मधुमालती बसंत      5 ग्राम +
         सितोपलादि चूर्ण       30 ग्राम
    इन सबको मिलाकर 30 खुराक बनाएँ। इसकी एक एक खुराक हर आठ घंटे में थोड़ी शहद और कंटकरयावलेह (कंटकारी अवलेह) 10 ग्राम में मिलाकर खाएं। यह ओषधि लगातार एक माह तक लें।
       क्या न करें- 
    स्मोकिंग बंद कर दें, अदरख का प्रयोग न करें, नानवेज और वनस्पति घी तेल बाज़ार की तली बस्तु न खाये।
       
    क्या करें- 
    हल्का खाना खिचड़ी दलिया, चपाती, हरी सब्जी, पपीता, सेव फल, लें अमरूद (जामफल) का प्रयोग सेक कर कर सकते हें। खाने में गाय का देसी घी, का कम मात्र में प्रयोग करें।
            यदि उपरोक्त जांच रिपोर्ट सामान्य हुई तो आपको इससे लाभ होगा , विशेष अन्य ओषधि जांच रिपोर्ट के बाद दी जा सकेगी।
     ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
    समस्त चिकित्सकीय सलाह रोग निदान एवं चिकित्सा की जानकारी ज्ञान(शिक्षण) उद्देश्य से हे| प्राधिकृत चिकित्सक से संपर्क के बाद ही प्रयोग में लें| आपको कोई जानकारी पसंद आती है, ऑर आप उसे अपने मित्रो को शेयर करना/ बताना चाहते है, तो आप फेस-बुक/ ट्विटर/ई मेल/ जिनके आइकान नीचे बने हें को क्लिक कर शेयर कर दें। इसका प्रकाशन जन हित में किया जा रहा है।
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
    Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

    स्वास्थ /रोग विषयक प्रश्न यहाँ दर्ज कर सकते हें|

    स्वास्थ है हमारा अधिकार

    हमारा लक्ष्य सामान्य जन से लेकर प्रत्येक विशिष्ट जन को समग्र स्वस्थ्य का लाभ पहुँचाना है| पंचकर्म सहित आयुर्वेद चिकित्सा, स्वास्थय हेतु लाभकारी लेख, इच्छित को स्वास्थ्य प्रशिक्षण, और स्वास्थ्य विषयक जन जागरण करना है| आयुर्वेदिक चिकित्सा – यह आयुर्वेद विज्ञानं के रूप में विश्व की पुरातन चिकित्सा पद्ध्ति है, जो ‘समग्र शरीर’ (अर्थात शरीर, मन और आत्मा) को स्वस्थ्य करती है|

    चिकित्सक सहयोगी बने:
    - हमारे यहाँ देश भर से रोगी चिकित्सा परामर्श हेतु आते हैं,या परामर्श करते हें, सभी का उज्जैन आना अक्सर धन, समय आदि कारणों से संभव नहीं हो पाता, एसी स्थिति में आप हमारे सहयोगी बन सकते हें| यदि आप पंजीकृत आयुर्वेद स्नातक (न्यूनतम) हें! आप पंचकर्म केंद्र अथवा पंचकर्म और आयुर्वेदिक चिकित्सा प्रक्रियाओं जैसे अर्श- क्षार सूत्र, रक्त मोक्षण, अग्निकर्म, वमन, विरेचन, बस्ती, या शिरोधारा जैसे विशिष्ट स्नेहनादी माध्यम से चिकित्सा कार्य करते हें, तो आप संपर्क कर सकते हें| 9425379102/ mail- healthforalldrvyas@gmail.com केवल परामर्श चिकित्सा कार्य करने वाले चिकित्सक सम्पर्क न करें|